CTET 2011 Question Paper-2 with Answer

Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
Pinterest
Reddit
Tumblr
CTET 2011 Question Paper-2 with Answer
Language-II(Hindi)

निर्देश (प्रश्न 121-129): गद्यांश को पढ़कर निम्नलिखित प्रश्नों में सबसे उचित विकल्प चुनिए।

कमजोर विचारक तत्काल उत्तर की ओर दौड़ता है, परन्तु सोचने वाले बच्चे समय लेते हैं। सवाल पर विचार करते हैं। क्या यह अंतर केवल सोचने के लिए कौशल के होने या न होने के कारण है? एक ऐसा कौशल जो केवल एक तकनीक है और जिसे, अगर भाग्य ने साथ दिया तो, हम बुद्धि से बच्चों को सिखा सकते हैं। क्या बच्चों को इस कौशल में प्रशिक्षित कर सकते हैं? मुझे भय है कि ऐसा नहीं है। अच्छा विचारक सोचने में समय इसलिए लगा सकता है क्योंकि वह अनिश्चय को सह सकता है। वह इस बात को भी झेल सकता है कि वह कोई चीज नहीं जानता, परन्तु कमजोर विचारक को कुछ न जानने की कल्पना ही असहनीय लगती है। क्या इस पूरे विश्लेषण से हम यह नहीं पाते कि असल में इन बच्चों में ‘गलत’ होने का भय बैठा होता है। बेशक यही भय है। जो मोनिका जैसे बच्चों पर भयानक दबाव डालता है। ठीक ऐसे ही दबाव हैल भी महसूस करता है। शायद मैं भी। मोनिका अकेली नहीं है जो सही होना चाहती है और गलत होने से डरती है। यहाँ शायद एक दूसरी असुरक्षा की भावना काम करती होती है। यह असुरक्षा की भावना पैदा होती है. सवाल के लिए कोई भी जवाब नहीं होने से।

(स्रोत:बच्चे असफल कैसे होते हैं – जॉन हॉल्ट, एकलव्य)

Q121. कमज़ोर विचारक

(a) जल्दी उत्तर देना चाहता है

(b) देर से उत्तर देता है

(c) हमेशा अज्ञानी होता है

(d) कमजोर होता है

Explain: कमजोर विचारक जल्दी उत्तर देना चाहता है। वह अधिक सोचना नहीं चाहता।

Q122. अच्छे विचारक वे हैं जो

(a) सोच-विचार कर जवाब देते हैं

(b) हमेशा सही जवाब देते हैं

(c) उलझे से रहते हैं

(d) जिनकी बुद्धि बहुत तेज़ होती है

Explain: अच्छे विचारक हमेशा सोच-समझ कर जबाव देते हैं। वे प्रश्न पर विचार करके जबाब देते हैं।

Q123. मोनिका पर किस बात का दबाव रहता है?

(a) बुद्धि का प्रशिक्षण न होने का

(b) असुरक्षित होने का

(c) अच्छा विचारक न कहलाए जाने का

(d) गलत होने का

Explain: मोनिका को हमेशा इस बात का डर रहता है कि कहीं उसके द्वारा दिए गया उत्तर गलत ना हो जाएँ।

Q124. लेखक के अनुसार क्या ज़रूरी है?

(a) अच्छी तरह चिंतन करने के बाद जवाब देना

(b) असुरक्षा न होना

(c) सही जवाब

(d) देर से जवाब देना

Explain: लेखक के अनुसार बच्चों के मन से असुरक्षा की भावना को हटाना चाहिए। सभी बच्चों को अभिव्यक्ति का अवसर प्रदान करना चाहिए।

Q125. कमजोर विचारक को क्या असहनीय लगता है?

(a) सोचने का कौशल

(b) उत्तर न जानना

(c) विचार

(d) प्रशिक्षण

Explain: कमजोर विचारक को कुछ ना जानने की कल्पना असहनीय लगती है। उनके अंदर हीन भावना पैदा होने लगती है कि उन्हें इस प्रश्न का उत्तर भी नहीं पता।

Q126. ‘प्रशिक्षित’ शब्द में उपसर्ग और प्रत्यय है

(a) प्र, इत

(b) प्र. त

(c) प्र. ईत

(d) प्र. क्षित

Explain: ‘प्रशिक्षित’ शब्द में ‘प्र’ उपसर्ग तथा “इत’ प्रत्यय है।

Q127. ‘वह ग़लत होने से डरती है।’ वाक्य में उचित क्रिया-विशेषण शब्द आएगा

(a) बहुत

(b) तेज़

(c) अचानक

(d) धीरे-धीरे

Explain: दिए गए वाक्य में ‘बहुत’ क्रिया-विशेषण शब्द आएगा।

Q128. ‘शायद मैं भी’ वाक्य है

(a) संदेहवाचक

(b) संकेतवाचक

(c) इच्छार्थक

(d) विधानवाचक

Explain: दिया गया वाक्य संदेहवाचक का उदाहरण है।

Q129. ‘तत्काल’ शब्द का संधि-विच्छेद है

(a) तत् + काल

(b) तत + काल

(c) त + अकाल

(d) ततः + काल

Explain: ततः + काल – ‘तत्काल’ शब्द का संधि-विच्छेद है। यह विसर्ग संधि का उदाहरण है।

निर्देश (प्रश्न 130-135); गद्यांश को पढ़कर निम्नलिखित प्रश्नों में सबसे उचित विकल्प चुनिए।

अभी भी इस बारे में बहुत कम जानकारी है कि आधुनिक कही जाने वाली आज की दुनिया आखिर कैसे संचालित हो रही है। हालाकि हरेक देश के पास इसकी कोई-न-कोई आधिकारिक व्याख्या ज़रूर है कि वे कैसे और किन संदों में आधुनिक हो रहे हैं। लेकिन इस बारे में मेरा कहना है कि आधुनिकता को समझने के लिए ज़रूरी है कि आप अपने अंदर झाँक सकें। इससे आपको पता चलेगा कि आधुनिकता की राह पर बढ़ने के लिए समाज को किन चीजों की ज़रूरत होती है। बेशक, आज हर कोई मॉडर्न होना चाहता है, लेकिन आधुनिकता की राह उतनी स्पष्ट नहीं हैं, जितनी वह मानी जाती है। इसीलिए मैं यह बात बार-बार कहता हूँ कि पश्चिमी समाज कभी-कभी आधुनिक नहीं रहे। पश्चिम के पास एकमात्र उल्लेखनीय चीज़ है सांइस, जिसमें उसने तरक्की की लेकिन जिन साइंटिस्ट के बलबूते वहाँ आधुनिकता का परचम लहराया जाता है, खुद वे साइंटिस्ट अपने कल्चर में उलझे रहते हैं। उनका यह कल्चर आधुनिकता का झंडाबरदार नहीं है। यह भी नहीं कहा जा सकता है कि उनके कल्चर पर दूसरी संस्कृतियों और लोकाचारों का असर नहीं हुआ होगा। अगर यह असर हुआ है तो सिर्फ वही आधुनिक क्यों कहा जाए।

(स्रोत:ब्रूनों लातूर – फ्रेंच सोशल साइंटिस्ट)

Q130. लेखक ने किस बात की अस्पष्टता की ओर संकेत किया है?

(a) आधुनिक की सही व्याख्या

(b) आधुनिक बनने के मानदंडों में वैविध्य

(c) पश्चिम देश की संस्कृति

(d) तरक्की का अर्थ

Explain: लेखक ने आधुनिक की सही व्याख्या की अस्पष्टता की ओर संकेत किया है। उनके अनुसार कुछ लोगों ने इसे गलत समझ लिया है

Q131. हर देश ने

(a) अपने-आप को आधुनिक साबित किया है

(b) आधुनिक होने के अपने अर्थ और मानदंड तय किए हैं

(c) आधुनिक होने की समान व्याख्या की है

(d) अपने द्वारा निर्धारित मानदंडों को सही नहीं कहा है

Explain: सभी देशों ने अपने आधुनिक होने के अलग-अलग मानदंड तय किए हैं। वे उनके अनुसार स्वयं को आधुनिक कहते

Q132. लेखक के अनुसार आधुनिक होने के लिए क्या जरूरी है?

(a) अपनी संस्कृति का संरक्षण

(b) आधुनिकता की निश्चित परिभाषा

(c) स्वयं का विश्लेषण

(d) साइंस में तरक्की करना

Explain: लेखक के अनुसार अपनी संस्कृति का संरक्षण आधुनिक होने के लिए सबसे जरूरी है। प्रायः देखा जाता है कि लोग आधुनिकता के नाम पर अपनी संस्कृति को भूलते जा रहे हैं।

Q133. ‘पश्चिमी समाज कभी-कभी आधुनिक नहीं रहे।’ लेखक ने ऐसा क्यों कहा होगा?

(a) पश्चिमी समाज आधुनिक नहीं है

(b) पश्चिमी समाज दूसरे कल्चर का असर ग्रहण कर रहा है

(c) पश्चिमी समाज के पास साइंस है

(d) पश्चिमी समाज यह नहीं जानता कि आधनिक का अर्थ क्या है और कौन-सी चीजें समाज को आधुनिक बनाती हैं

Explain: लेखक ने ऐसा इसलिए कहा क्योंकि पश्चिम समाज के पास एकमात्र चीज साइंस है। वह इसी के सहारे स्वयं को आधुनिक कहता है।

Q134. लेखक इस गद्यांश में क्या कहना चाहता है?

(a) आधुनिक होने के लिए विज्ञान में तरक्की करना जरूरी है

(b) पश्चिमी समाज आधुनिक है

(c) वैज्ञानिकों को केवल अपनी संस्कृति का ज्ञान है

(d) विज्ञान में उन्नति करना ही आधुनिक होने का मानदंड नहीं है

Explain: लेखक इस गद्यांश के माध्यम से यह स्पष्ट करना चाहता है कि सिर्फ विज्ञान में उन्नति करने से ही आधुनिक नहीं बन सकते हैं। वैज्ञानिक उन्नति आधुनिकता का प्रमाण नहीं है

Q135. ‘साइंटिस्टों’ शब्द इस ओर संकेत करता है कि

(a) कोई भाषा किसी दूसरी भाषा से शब्द तो लेती है लेकिन व्याकरण अपना प्रयुक्त करती है

(b) लेखक का शब्द-चयन अच्छा नहीं है

(c) आजकल खिचड़ी भाषा का प्रयोग हो रहा है

(d) ऐसे शब्द न तो हिन्दी के रहते हैं और न अंग्रेजी के

Explain: ‘साइंटिस्टों’ शब्द के प्रयोग से यह स्पष्ट किया गया है कि किसी भी भाषा में अन्य भाषा के शब्द प्रयोग करने पर भी व्याकरण उसी भाषा का प्रयोग किया जाता है।

Pages ( 19 of 20 ): « Previous1 ... 1718 19 20Next »

Read Important Article

Leave a Comment

error: Content is protected !!